हुज़ूर की शान में गुस्ताखी नुपूर शर्मा की हो गिरफ्तारी
-जुमे की नमाज़ के बाद जमियत उलेमा-ए-हिन्द ने महामहिम राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन पत्र सौपा - कानपुर हिंसा की निष्पक्ष जांच की मांग कैराना। पैगंबर हज़रत उहम्मद की शान में गुस्ताखी करने के विरोध में जुमे की नमाज़ के बाद जमियत उलेमा-ए-हिन्द की ओर से जामा मस्जिद के शाही इमाम मौलाना ताहिर हसन ने महामहिम राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन-पत्र उपजिलाधिकारी व सीओ को सौंपा। शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद जमियत उलेमा-ए- हिन्द की ओर से जामा मस्जिद के शाही इमाम मौलाना ताहिर हसन ने सैंकड़ों लोगों के साथ महामहिम राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन-पत्र उपजिलाधिकारी कैराना विशु राजा व सीओ कैराना बिजेंद्र सिंह भड़ाना को सौंपा। ज्ञापन-पत्र में पैगंबर हज़रत मुहम्मद की शान में गुस्ताखी करने वाली नुपूर शर्मा पर सख्त कार्यवाही करते हुए उसे गिरफ्तार करने तथा कानपुर हिंसा की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की गई है। ज्ञापन-पत्र में कहा गया है कि एक टीवी डिबेट के दौरान खुलेआम पैगंबर हज़रत मुहम्मद की शान में गुस्ताखी करके करोड़ों मुसलमानों की भवनाओं के ठेस पहुंचाई गई है। देश के अलग-अलग राज्यों में नुपूर शर्मा के खिलाफ मुकदमे दर्ज हो चुके हैं, लेकिन अभी तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है। ज्ञापन-पत्र जमियत उलेमा-ए-हिन्द के जिलाध्यक्ष मौलाना आकिल हसन के हस्ताक्षरयुक्त सौपा गया।